सोम. सितम्बर 28th, 2020

पूरे हफ्ते की भागदौड़ के बाद आता है अपना कूल—कूल सा संडे। वैसे तो इस कोरोना काल में हर दिन ही संडे टाइप है फिर भी संडे तो संडे है। पर, कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने ठान लिया है कि हर दिन को एक जैसा ही बनाना है। पर जनाब, पूरे हफ्ते में एक दिन तो आपको तय करना ही होगा जब आप पूरी तरह से रिलैक्स रहें।

… तो आइए आज आपको कुछ ऐसे टिप्स देते हैं जिनसे आप Sunday हो या Monday, हर दिन को बना सकते हैं Happy Day या कहिए तो Fun-Day.

  • सुबह उठते ही फोन देखने की आदत छोड़ दीजिए। विश्वास मानिए आप बहुत अच्छा फील करेंगे।
  • दिन की शुरुआत काम की लिस्ट और टेंशन से अलग कीजिए। अपने घर और मन के खिड़की—दरवाज़े खोलिए और बाहर देखिए कि प्रकृति के खूबसूरत नज़ारे किस तरह आपको गुड मॉर्निंग बोल रहे हैं।
  • रूटीन ब्रेकफास्ट, लंच या डिनर से कुछ अलग पकाइए और कोई बढ़िया सा गाना लगाकर, सुनते हुए खाइए।
  • एक्सरसाइज़ या योग भी हर दिन से अलग कीजिए। जैसे दमदार म्यूज़िक के साथ ज़ुम्बा ट्राई कीजिए या फिर पूरे परिवार के साथ थोड़ी देर बिना स्टेप वाला डांस सेशन enjoy कीजिए।
  • संडे का मतलब ये बिल्कुल नहीं कि आप बस खाते, सोते और फोन चलाते रहें। बल्कि आज आपके पास बहुत सारा वक्त है तो खुद को वक्त दिजिए।
  • अगर आप बिल्कुल अकेले हैं और बोर हो रहे हैं तो अपने दोस्तों के साथ ग्रुप वीडियो चैट भी कर सकते हैं। पर उस पर ऑफिस की टेंशन वाली बातों की जगह पॉज़िटीव बातें कीजिए। एक दूसरे को चुटकुले सुनाइए, गाने सुनिए, सुनाइए, मस्ती—मज़ाक कीजिए।
  • ध्यान दीजिए कि क्या कोई ऐसा काम है जिसे आप पूरे हफ्ते सिर्फ काम के प्रेसर की वजह से पूरा नहीं कर पाए, तो उसे फटाफट निपटा लीजिए। आप अच्छा महसूस करेंगे।
  • अपने परिवार के साथ प्यार भरा वक्त बिताइए। साथ में गेम्स खेलिए। घर में छोटे बच्चे हैं तो उनके साथ छोटी—छोटी एक्टिविटी में हिस्सा लीजिए।

हां तो आज वह हर काम कीजिए जिसे करने के बाद आपको अच्छा महसूस होता है, और फिर खिलखिलाते हुए कहिए यही तो है हैप्पी हैप्पी वाला संडे। अगले संडे को फिर भेंट होगी।

… तो हर संडे को फन डे बनाने के लिए UNBIASED INDIA पर पढ़ना न भूलिए संडे विद श्वेता।

5 1 vote
Article Rating

Share your comment.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
error: Content is protected !!
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x