सरगोशी

चीन का यह खोखला विरोध राष्ट्रवाद नहीं, उसकी नौटंकी है!

मान लीजिए कि गांव को शहर का बहिष्कार करना है तो उसे क्या करना होगा? क्या जरूरी नहीं कि वह सारी व्यवस्था सुनिश्चित करे जिसके लिए वह पलायन करता है? मान लीजिए कि शहर को भी गांव पर आश्रित नहीं रहना है तो वह क्या करेगा? क्या जरूरी नहीं कि वह सिर्फ कार्यालय नहीं, बल्कि

सृजन

पीपल और गुलमोहरी का मौन प्रेम

आरी कुल्हाड़ी झेलती हुई गुलमोहरी का अस्तित्व आज नष्ट ही होने वाला था कि उसने पीपल से कहा सुनो ..मैं भी तुमसे प्रेम करती हूं। मेरे रंगीन रूप ने तुम्हें समझने में हमेशा अवरोध उत्पन्न किया। मैं अपनी मुग्ध मनोरमता के कारण तुम्हें पहचान न सकी। आज इतनी आसानी से टूटने पर मुझे एहसास हो

तीर्थ स्थान

भालका तीर्थ, जहाँ श्रीकृष्ण ने त्यागी थी देह

भारतवर्ष में ऐसे कई धार्मिक स्थल हैं जो हिंदू धर्म की दृष्टि से बहुत महत्व रखते हैं। ऐसा ही एक स्थान गुजरात के वेरावल में सोमनाथ मंदिर से करीब 5 किलोमीटर स्थित है, जिसका नाम भालका तीर्थ स्थल है। मैंने स्वयं इस तीर्थ स्थान के दर्शन किए हैं। वहां जाकर स्वयं आपको अहसास होने लगता

Show Time सच्ची—मुच्ची

सुशांत, तुमने एक बार कहा तो होता

सुशांत! काई पो चे मूवी हो या छिछोरे हर फिल्म में तुमने सिखाया हार मत मानना। फिर तुमने कैसे हार मान ली सुशांत? जिस कामयाबी के लिए लोग तरसते हैं वो तुम्हें हासिल थी। लोगों के जिस प्यार के लिए सितारे तरसते हैं, वो भी तुम्हें हासिल था। फिर क्यों किया तुमने ये सब? डीयर

error: Content is protected !!