Show Time सच्ची—मुच्ची

सुशांत, तुमने एक बार कहा तो होता

सुशांत! काई पो चे मूवी हो या छिछोरे हर फिल्म में तुमने सिखाया हार मत मानना। फिर तुमने कैसे हार मान ली सुशांत? जिस कामयाबी के लिए लोग तरसते हैं वो तुम्हें हासिल थी। लोगों के जिस प्यार के लिए सितारे तरसते हैं, वो भी तुम्हें हासिल था। फिर क्यों किया तुमने ये सब? डीयर

तीर्थ स्थान

श्री वृंदावन धाम… यही तो है राधा रानी का निवास

धन-धन वृन्दावन रजधानी।जहाँ विराजत मोहन राजा श्री राधा महारानी।सदा सनातन एक रस जोरी महिमा निगम ना जानी।श्री हरि प्रिया हितु निज दासी रहत सदा अगवानी॥ विश्व के सभी स्थानों में श्री धाम वृन्दावन का सर्वोच्च स्थान माना गया है। इस धाम की महिमा वही समझ सकता है, जिसपर ब्रजरानी श्री राधारानी की कृपा बरसती है।वृन्दावन

error: Content is protected !!