Gulzar Birthday | गुलज़ार से ज़िंदगी गुलज़ार है…

‘मेरी लिखी बात कोहर कोई समझ नहीं पाताक्योंकि…. मैं अहसास लिखता हूंऔर लोग अल्फ़ाज़ पढ़ते हैं’।.…

error: Content is protected !!