क्यों जगमगाते हैं जुगनू?

Scie-logic
गर्मियों के मौसम में हमें अपने आस-पास अनेक तरह के नन्हे कीट देखने को मिलते हैं। कुछ कीट बहुत ही आकर्षक होते हैं जैसे ड्रैगनफ्लाई या लेडीबग और कुछ काफी तेज़ जैसे कि मच्छर। लेकिन इनमें से एक कीट ऐसा है जो हम सभी को लुभाता है और वो है जुगनू। रात के अंधेरे में ये कीट आकाश के तारों की तरह जगमगाते हैं। हममें से शायद ही कोई ऐसा होगा जिसने इसे पकड़ने की कोशिश नहीं की होगी सभी के मन में कभी न कभी ये सवाल भी ज़रुर आया होगा कि आखिर ये जुगनू चमकते कैसे हैं। आइए इसके विज्ञान को जानते हैं।

जुगनू लगातार नहीं चमकते, बल्कि एक निश्चित अंतराल में ही चमकते और बंद होते हैं। वैज्ञानिक राबर्ट बायल ने सन 1667 में सबसे पहले कीटों से पैदा होने वाली रोशनी की खोज की। पहले यह माना जाता था कि जुगनुओं के शरीर में फास्फोरस होता है, जिसकी वजह से यह चमकते हैं लेकिन इटली के वैज्ञानिक स्पेलेंजानी ने सिद्ध किया कि जुगनू की चमक फास्फोरस से नहीं, बल्कि ल्यूसिफेरिन नामक ऑर्गेनिक कंपाउंड के कारण होती है जो जुगनू के पेट में पाया जाता है। जैसे ही हवा जुगनू के पेट के अंदर जाती है ये ल्यूसिफेरिन के साथ प्रतिक्रिया करती है और इससे होने वाला रासायनिक परिवर्तन जुगनू को चमक या प्रकाश देता है। प्रकाश के इस तरह के उत्पादन को बायोल्युमिनिसेंस कहते हैं हालांकि इस प्रकाश को कोल्ड लाइट भी कहा जाता है क्योंकि इसके उत्पादन में बेहद कम हीट यानी कि गर्मी पैदा होती है।

ऐसा माना जाता रहा है कि जुगनुओं के चमकने के पीछे उनका मुख्य उद्देश्य अपने साथी को आकर्षित करना, अपने लिए भोजन तलाशना होता है लेकिन बीते 20 वर्षों में हुए शोधों में और भी कई महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल हुई हैं जिसमें ये पता चला है कि जुगनुओं में प्रकाश किशोरवस्था में ही विकसित हुआ। Tufts University में काम कर रही इकोलॉजिस्ट Sara Lewis (सारा लूईस) ने तीन दशकों तक जुगनुओं पर शोध किया और कई रोचक तथ्यों का पता लगाया। सारा ने पाया कि जुगनुओं का प्रकाश पहले एक चेतावनी संकेत के रुप में विकसित हुआ। उनसे उत्सर्जित होने वाला नियॉन रंग शिकारी को चेतावनी देता है कि मैं विषाक्त हूं मुझसे दूर रहो। इतना ही नहीं उत्तरी अमेरिका में जुगनुओं के Photuris नाम के एक विशेष समूह ने दूसरे जुगनुओं की प्रजाति के कोर्टशिप सिग्नल्स का नकल करना सीख लिया है जिसके ज़रिए वो नर जुगनुओं को आकर्षित करने की बजाय उनका भोजन के लिए शिकार करती हैं। सारा ने ऐसी अनेक जानकारियों को अपनी पुस्तक Silent Sparks: The Wondrous World of Fireflies में भी प्रकाशित किया है।

… तो देखा आपने जूगनुओं का चमकना कोई जादू नहीं बल्कि विज्ञान ही है तो अगली बार अगर चमकता हुआ जुगनू दिखे तो इसकी वैज्ञानिक जानकारी दूसरों से भी साझा करना ना भूलें।
Facebook Comments Box
brooch firefly Jugnoo jugnu Jyoti Singh Scie Logic with Jyoti Singh science Science Logic unbiased science whats is jugnu why does jugnu shine अन्बायस्ड इंडिया जुगनू के टिमटिमाने का कारण जुगनू क्या होते हैं जुगनू क्यों जगमगाते हैं ज्योति सिंह विज्ञान विज्ञान की बातें साइ—लॉजिक विद ज्योति सिंह

One thought on “क्यों जगमगाते हैं जुगनू?

  1. बेहतरीन लिखा आपने। विज्ञान जैसे नीरस विषय को रुचिकर बना दिया।
    बधाई होम

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Related Posts

Scie-logic विज्ञान

वृक्षों की अंडरग्राउंड नेटवर्किंग

सूर्य की किरणें, हवाएं, पशु-पक्षी और ऊंचे-ऊंचे पेड़ इन सभी को आप रोज़ाना देखते और महसूस करते हैं। लेकिन क्या आपने कभी अपने पैरों तले,

Scie-logic

Beirut Explosion | लेबनान की राजधानी बेरुत में हुए विस्फोट की केमिस्ट्री समझिए

4 अगस्त की शाम लेबनान की राजधानी बेरुत में एक ज़ोरदार विस्फोट हुआ जिसमें ना सिर्फ लोगों की जानें गईं बल्कि अनेक लोग घायल भी

error: Content is protected !!